10 नवंबर 1967 को नरसिंहपुर, मध्य प्रदेश में जन्मे आशुतोष राणा 54 साल के हो गए हैं। आशुतोष राणा एक ऐसे अभिनेता हैं, जिन्होंने ज्यादातर फिल्मों में नकारात्मक भूमिकाएं निभाई हैं और उन्होंने अपने किरदार से लोगों के दिलों में एक अलग ही जगह बनाई है। आशुतोष राणा बॉलीवुड इंडस्ट्री के मंझे हुए कलाकार हैं, जिन्होंने अपने अभिनय के दम पर अपनी खास पहचान बनाई है। यही वजह रही है कि एक समय में वह विलेन के रूप में हीरो पर भी भारी पड़ते थे।

आशुतोष राणा ने अपने अपने करियर की शुरुआत टेलिविजन से की थी। उन्होंने 1995 में टीवी धारावाहिक “स्वाभिमान” में त्यागी का किरदार निभाया था और इसके साथ ही उनका करियर शुरू हुआ परंतु अभिनेता को साल 1998 में आई फिल्म “दुश्मन” से अच्छी खासी पहचान मिली थी। इस फिल्म में उन्होंने गोकुल पंडित का रोल निभाया था, जिसको दर्शकों द्वारा काफी पसंद किया गया।

अगर हम आशुतोष राणा की निजी जिंदगी के बारे में बात करें तो अभिनेता ने 20 साल पहले रेणुका शहाणे से शादी की थी। जी हां, रेणुका शहाणे भी अभिनेत्री रही हैं। उन्होंने फिल्म “हम आपके हैं कौन” में सलमान खान की भाभी का रोल निभाया था। शादी के इतने सालों के बाद भी इन दोनों का रिश्ता अटूट है परंतु शायद ही किसी को इस बात का पता होगा कि इस अटूट रिश्ते को जोड़ने में आशुतोष राणा को बहुत पापड़ बेलने पड़े थे।

आप यह जान लीजिए कि रेणुका शहाणे तलाकशुदा थीं और वह दूसरी शादी के लिए तैयार बिल्कुल भी नहीं थीं, जिसकी वजह से उनसे शादी करना आशुतोष राणा के लिए इतना आसान बिल्कुल भी नहीं रहा था परंतु आशुतोष राणा भी यह ठान चुके थे कि वह रेणुका को अपना बना कर रहेंगे। अभिनेता को अपने ऊपर इतना विश्वास था कि वह रेणुका को मजबूर कर देंगे कि वह उन्हें “आई लव यू” बोलें और ऐसा हुआ भी।

आपको बता दें कि आशुतोष राणा ने कुछ साल पहले ही अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़े हुए कई किस्से कपिल शर्मा के शो में साझा किए थे। हिंदी फिल्मों के साथ ही मराठी, कन्नड़ और तेलुगु फिल्मों में भी अपने दमदार अभिनय से दर्शकों का दिल जीतने वाले अभिनेता आशुतोष राणा और रेणुका की पहली मुलाकात डायरेक्टर हंसल मेहता की एक फिल्म की शूटिंग के दौरान हुई थी और इन दोनों की मुलाकात कराने वाले सिंगर राजेश्वरी सचदेव थे।

जब आशुतोष राणा ने रेणुका को देखा तो वह पहली ही नजर में उनको दिल दे बैठे थे। उस समय के दौरान आशुतोष राणा रेणुका के बारे में थोड़ा बहुत जानते थे परंतु रेणुका शहाणे के लिए आशुतोष राणा पूरी तरह से अनजान व्यक्ति थे, वह उनके बारे में नहीं जानती थीं। जब इन दोनों की पहली मुलाकात हुई तो इसके बाद दोनों कई महीनों तक नहीं मिले थे लेकिन बाद में दोनों में धीरे-धीरे बातचीत का सिलसिला शुरू हो गया।

आशुतोष राणा ने इस विषय में बताते हुए यह कहा था कि “डायरेक्टर रवि राय मेरे और रेणुका के साथ एक शो करना चाहते थे, लेकिन मैंने इस मौके का फायदा उठाते हुए रवि से रेणुका का नंबर मांग लिया था लेकिन इसी बीच पता चला कि रेणुका रात को 10:00 बजे के बाद किसी के फोन का जवाब नहीं देती और ना ही वह किसी अनजान नंबर के फोन को उठाती थीं।” तब आशुतोष राणा ने रेणुका की आंसरिंग मशीन पर एक मैसेज छोड़ा था, जिसमें उन्होंने दशहरे की बधाई दी थी।

आशुतोष राणा ने बताया कि “मैंने अपना नंबर जानबूझकर नहीं दिया, वह इसलिए कि अगर रेणुका को मुझे मुझसे बात करनी होगी तो वह खुद कोशिश करेंगी और कहीं ना कहीं से मेरा नंबर ढूंढ ही लेंगी।” कुछ दिनों के बाद आशुतोष को अपनी बहन से मैसेज मिला कि रेणुका का फोन आया था और उन्होंने उन्हें दशहरे की शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद दिया है। इसके बाद कुछ समय तक दोनों के बीच संदेशों का सिलसिला चलता रहा और बाद में रेणुका ने आशुतोष राणा को अपना पर्सनल नंबर दे दिया।

आशुतोष राणा ने यह बताया था कि “मैंने उसी दिन रात 10:30 बजे रेणुका को फोन किया और कहा “थैंक यू रेणुका जी, आपने अपना नंबर दे दिया। इसके बाद करीब 3 महीने तक हम हमारी फोन पर बातचीत चलती रही।” अभिनेता ने आगे बताया कि “एक बार रेणुका गोवा में शूटिंग कर रही थी, तो मैंने उन्हें फोन पर एक कविता सुनाई।

उन्होंने कहा कि “इस कविता में मैंने इकरार, इंकार, खामोशी, खालीपन और झुकी निगाहें… सब कुछ लिखा था। इस कविता को सुनने के बाद रेणुका ने मुझे ‘आई लव यू’ कह दिया था।” जब आशुतोष राणा ने यह सुना तो उनकी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा था। आशुतोष राणा ने आगे बताया कि “मैंने उनसे कहा था मिलकर बात करें करते हैं।”

आपको बता दें कि रेणुका की पहली शादी मराठी थिएटर के डायरेक्टर विजय केलकरे से हुई थी परंतु यह शादी टूट गई थी, जिसके बाद रेणुका का शादी का बिल्कुल भी मन नहीं था। पहली शादी टूटने के बाद रेणुका के मन में शादी को लेकर कुछ संदेह था परंतु आशुतोष राणा इस शादी के लिए बिल्कुल तैयार थे।

वहीं दूसरी तरफ रेणुका सहारे की मां भी अपनी बेटी की शादी को लेकर थोड़ी असमंजस में थीं। आखिर में दोनों के बीच अच्छा तालमेल देखकर रेणुका की मां ने भी शादी के लिए हां कर दिया।

आपको बता दें कि रेणुका शहाणे के घरवालों को असमंजस इसलिए नहीं थी कि रेणुका की यह दूसरी शादी थी बल्कि इसलिए थी कि उन्हें आशुतोष के फैमिली बैकग्राउंड का पता चला था। आशुतोष राणा मध्य प्रदेश के छोटे गांव और 12 सदस्यों की फैमिली में पले थे।

आशुतोष राणा और रेणुका की पहली मुलाकात के करीब ढाई साल के बाद दोनों विवाह के बंधन में बंध गए। अब दोनों की शादी के 20 साल पूरे हो चुके हैं और दोनों के दो बेटे सत्येंद्र और शौर्यमन हैं, जो इन दोनों के मजबूत रिश्ते की डोर की निशानी हैं। अब यह अपना जीवन हंसी-खुशी व्यतीत कर रहे हैं।

Advertisement